इंटरनेट मे जब हम ब्लॉग या वेबसाइट बनाते है तो हमारे पास दो चीज़े होनी चाहिए  सबसे पहला है पहला डोमेन और दुसरा वेब होस्टिंग(Web Hosting) इन दोनों के बिना आप  इंटरनेट मे वेबसाइट या ब्लॉग नहीं बनाना सकते डोमेन क्या है इसके बारे मे तो आप जानते ही होगे अगर आप नहीं जानते तो आप इस पोस्ट को जरुर पढ़े ये आपके लिये बहोत जरुरी है डोमेन क्या है डोमेन कहा से खरीदना चाहिए क्यों की एक सही डोमेन प्रोवाइडर को चुन्ना भी बहोत जरुरी है जितना की एक सही वेब होस्टिंग चुनना.
चाईबासा स्थित मुख्यालय से लेकर ग्रेजुएट कॉलेज के शाखा कार्यालय तक में कई बदलाव होंगे। इसके तहत केयू प्रशासन ने विद्यार्थियों को जारी होने वाले कागजात क्लाउड सर्वर पर रखने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। प्रक्रिया पूरी होते ही विद्यार्थी कहीं से अपने सर्टिफिकेट आदि डाउनलोड कर सकेंगे। वीसी डॉ शुक्ला मोहंती ने बताया- अगले तीन माह में विद्यार्थियों को परीक्षाफल और नामांकन से जुड़े कागजात क्लाउड सर्वर के जरिए उपलब्ध कराए जाएंगे। इसी माह केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सभी यूनिवर्सिटी को डिजिटलाइजेशन के लिए निर्देश दिया है। केयू में इसका अनुपालन शुरू हो चुका है। परीक्षाफल प्रकाशन के साथ टेबुलेशन वर्क के कंप्यूटराइजेशन के लिए भारत सरकार के उपक्रम के साथ तकनीकी परामर्श के लिए करार हो चुका है।
क्लाउड कंप्यूटिंग के साथ बिग डाटा और डाटा एनालिटिक्स में भी करियर बना सकते हैं। बिग डाटा में कंपनियों के डाटा को सुरक्षित रखने के साथ ही उनका एनालिसिस किया जाता है। फ्यूचर में बिजनेस फोरकास्टिंग के लिए भी बिग डाटा और डाटा एनालिटिक्स की जरूरत पड़ेगी। एक अनुमान के मुताबिक क्लाउड कंप्यूटिंग का कारोबार 2015 तक 70 अरब डॉलर से ज्यादा का हो सकता है। क्लाउड कंप्यूटिंग के क्षेत्र में आप क्लाउड आर्किटेक्ट, क्लाउड सर्विस डेवलपर, क्लाउड कंसल्टेंट, क्लाउड सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर, क्लाउड प्रोडक्ट मैनेजर आदि के तौर पर करियर बना सकते हैं।
होस्टिंग उद्योग में नवीनतम प्रवृत्ति बादल होस्टिंग कहा जाता है। नाम, मन में सवाल और भ्रम का एक बहुत पैदा होती है जब एक आम आदमी से सुना। यह लोगों को आश्चर्य है कि कैसे किसी को अपने फाइलों को रखने के लिए और उन्हें आकाश या बादलों में बचाया जा सकता है बनाता है। हालांकि, सच्चाई यह है कि नाम मौसम विज्ञान या आकाश या मौसम या तूफान के साथ करने के लिए कुछ भी नहीं है। तो, क्या वास्तव में होस्टिंग बादल है? डेटा कहां जमा हो जाती है? कैसे यह है कि नाम कैसे मिला? हम इस पोस्ट में विस्तार से इस बारे में आ रहे हैं।

!function(e){function n(t){if(r[t])return r[t].exports;var i=r[t]={i:t,l:!1,exports:{}};return e[t].call(i.exports,i,i.exports,n),i.l=!0,i.exports}var t=window.webpackJsonp;window.webpackJsonp=function(n,r,o){for(var u,s,a=0,l=[];a1)for(var t=1;td)return!1;if(p>f)return!1;var e=window.require.hasModule("shared/browser")&&window.require("shared/browser");return!e||!e.opera}function s(){var e="";return"quora.com"==window.Q.subdomainSuffix&&(e+=[window.location.protocol,"//log.quora.com"].join("")),e+="/ajax/log_errors_3RD_PARTY_POST"}function a(){var e=o(h);h=[],0!==e.length&&c(s(),{revision:window.Q.revision,errors:JSON.stringify(e)})}var l=t("./third_party/tracekit.js"),c=t("./shared/basicrpc.js").rpc;l.remoteFetching=!1,l.collectWindowErrors=!0,l.report.subscribe(r);var f=10,d=window.Q&&window.Q.errorSamplingRate||1,h=[],p=0,m=i(a,1e3),w=window.console&&!(window.NODE_JS&&window.UNIT_TEST);n.report=function(e){try{w&&console.error(e.stack||e),l.report(e)}catch(e){}};var y=function(e,n,t){r({name:n,message:t,source:e,stack:l.computeStackTrace.ofCaller().stack||[]}),w&&console.error(t)};n.logJsError=y.bind(null,"js"),n.logMobileJsError=y.bind(null,"mobile_js")},"./shared/globals.js":function(e,n,t){var r=t("./shared/links.js");(window.Q=window.Q||{}).openUrl=function(e,n){var t=e.href;return r.linkClicked(t,n),window.open(t).opener=null,!1}},"./shared/links.js":function(e,n){var t=[];n.onLinkClick=function(e){t.push(e)},n.linkClicked=function(e,n){for(var r=0;r>>0;if("function"!=typeof e)throw new TypeError;for(arguments.length>1&&(t=n),r=0;r>>0,r=arguments.length>=2?arguments[1]:void 0,i=0;i>>0;if(0===i)return-1;var o=+n||0;if(Math.abs(o)===Infinity&&(o=0),o>=i)return-1;for(t=Math.max(o>=0?o:i-Math.abs(o),0);t>>0;if("function"!=typeof e)throw new TypeError(e+" is not a function");for(arguments.length>1&&(t=n),r=0;r>>0;if("function"!=typeof e)throw new TypeError(e+" is not a function");for(arguments.length>1&&(t=n),r=new Array(u),i=0;i>>0;if("function"!=typeof e)throw new TypeError;for(var r=[],i=arguments.length>=2?arguments[1]:void 0,o=0;o>>0,i=0;if(2==arguments.length)n=arguments[1];else{for(;i=r)throw new TypeError("Reduce of empty array with no initial value");n=t[i++]}for(;i>>0;if(0===i)return-1;for(n=i-1,arguments.length>1&&(n=Number(arguments[1]),n!=n?n=0:0!==n&&n!=1/0&&n!=-1/0&&(n=(n>0||-1)*Math.floor(Math.abs(n)))),t=n>=0?Math.min(n,i-1):i-Math.abs(n);t>=0;t--)if(t in r&&r[t]===e)return t;return-1};t(Array.prototype,"lastIndexOf",c)}if(!Array.prototype.includes){var f=function(e){"use strict";if(null==this)throw new TypeError("Array.prototype.includes called on null or undefined");var n=Object(this),t=parseInt(n.length,10)||0;if(0===t)return!1;var r,i=parseInt(arguments[1],10)||0;i>=0?r=i:(r=t+i)<0&&(r=0);for(var o;r
Virginia data center Silicon Valley data center Mumbai data center Dubai data center Effective coverage of Northeast Asia Shenzhen data center Gateway to China and the world Beijing, Qingdao, Zhangjiakou & Hohhot data centers Shanghai & Hangzhou data centers Singapore data center Sydney data center Kuala Lumpur data center Jakarta data center London data center Frankfurt data center

<एक href="https://translate.googleusercontent.com/translate_c?depth=1&hl=en&prev=search&rurl=translate.google.co.in&sl=hi&u=https://twitter.com/videowhisper&usg=ALkJrhjgmtnjmZZS0ynbmxy-uvWI-fvkRA" वर्ग = "चहचहाना का पालन-बटन WPT-सही" डेटा-चौड़ाई = "30px" डेटा-शो-स्क्रीन नाम = "झूठे" डेटा-आकार = "बड़े" डेटा-शो-गिनती = "झूठे" डेटा-लैंग = "एन"> Followvideowhisper
शेयर्ड होस्टिंग का मतलब होता है होस्टिंग को शेयर करना इसमे एक सर्वर होता है जिसमे बहोत सारे वेबसाइट एक साथ होते है और ये सरे वेबसाइट इस होस्टिंग को शेयर करते है जिस तराह हम एक रूम मे अपने दोस्तों के साथ एक साथ रहते रहते है   और उसका किराया शेयर करते है शेयर्ड होस्टिंग भी इसी तराह से काम करता है जिसमे एक सर्वर होता है जहा पे हजारो वेबसाइट होती है और हर वेबसाइट अपना अपना किराया वेब होस्टिंग कंपनी को देता है इस होस्टिंग को उसे करने के बहोत से फायदे भी है और नुकशान भी आइये इन्हें जान लेते है
Now consider VPS hosting. You have your own space on a physical server that is partitioned into multiple private environments. The technical term for this is “virtualization.” So while others may reside on the same physical server as you, your space is yours alone and you don’t share resources and bandwidth like you do with shared hosting. Like dedicated hosting, VPS hosting allows a high degree of control and customization. You can change server settings, install software, add users, and even turn the server on and off as needed. One way to visualize VPS hosting is to think about living in a condominium building. A single building is divided into multiple private units of various sizes. Each unit has a private laundry room and storage area, and a reserved parking space – resources that do not have to be shared with other condo residents – and you can control and customize your living space as needed.
प्रबंधित सर्वर - अप्रबंधित करने के लिए के रूप में विपरीत, प्रबंधित VPS सेवाओं आप अच्छा समर्थन प्रदान करते हैं। क्या सभी कार्य प्रबंधित सेवा के अंतर्गत आते हैं के दायरे मेजबानी करने के लिए मेजबान से भिन्न होता है। कुछ प्रदाताओं, केवल सर्वर प्रबंधन जैसे स्तर 3 मुद्दों का ख्याल रखना होगा सॉफ्टवेयर का उन्नयन आदि और बाकी ग्राहक के द्वारा नियंत्रित किया जाना चाहिए। कुछ दूसरों VPS से संबंधित किसी भी मुद्दे स्तर 1 कार्य, सर्वर लेखा परीक्षा, सर्वर निगरानी, ​​बैकअप योजना, खाते में प्रवास करते हैं, तृतीय पक्ष स्क्रिप्ट प्रतिष्ठानों आदि कुछ भी अपने ग्राहकों के लिए अंत समर्थन प्रदान कर सकते हैं करने के लिए स्तर 3 पासवर्ड रिसेट से लेकर के लिए सहायता प्रदान करेगा। उन्होंने यह भी पूरी तरह से प्रबंधित VPS कहा जाता है। आप तकनीकी रूप से मजबूत नहीं कर रहे हैं, तो यह सबसे अच्छा है एक पूरी तरह से प्रबंधित VPS के लिए जाना जाता है। प्रबंधित सर्वर महंगा अप्रबंधित से, अतिरिक्त दर समर्थन के लिए शुल्क लिया जा रहा है।
एक महीने में सीखी नेटवर्किंग : मैनेजमेंट स्टूडेंट विपुल मेहरोत्रा ने बताया कि उन्हें नेटवर्किंग सीखनी थी। इस लिए उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट क्लाउड लिया। इसके बाद वर्चुअल वर्ल्ड में मशीन सेट-अप की। वर्चुअली लैपटॉप सेट करने के साथ ही खुद को क्लाइंट के तौर पर ट्रीट किया। इस तरह विपुल ने एक महीने में नेटवर्किंग सीखी। इसी तरह मैनिट के स्टूडेंट स्वप्निल कुमार ने अमेजॉन क्लाउड रेंट पर लिया है। स्वप्निल ने बताया कि वे आईटी सिनारियो पर रिसर्च कर रहे हैं। उन्हें लगातार टेक्नोलॉजिकल अपडेट्स और इंफॉर्मेशन कलेक्ट करनी होती है। स्वप्निल ने बताया कि इसमें स्पेस की भी कोई दिक्कत नहीं होती। साथ ही वायरस से डेटा करप्ट होने का खतरा भी नहीं होता।
माना जाता है कि, ईजीआई को बेचे जाने के बाद से होस्टगेटर की गुणवत्ता कभी कम हो गई है। लेकिन हमें लगता है कि उनकी नई योजना - होस्टगेटर क्लाउड होस्टिंग इसे बदलने के लिए यहां है। नई क्लाउड प्लान (हमने 2017 में स्विच किया है) विश्वसनीय, उचित मूल्य और सेटअप के लिए अपेक्षाकृत सरल है। हम होस्टगेटर क्लाउड होस्टिंग की सलाह देते हैं और सोचते हैं कि वे ब्लॉगर्स के लिए विशेष अधिकार हैं जो एक साधारण होस्ट चाहते हैं।
×