अलग सर्वर लगाने में कम से 22 लाख का खर्च था, इसलिए एनआईसी दिल्ली से वार्ता की। शुरू में उन्हें बताया गया कि यूपी में किसी विवि को एनआईसी ने अब तक अपना सर्वर नहीं दिया है मगर अंतत: बात बन गई और एनआईसी सर्वर उपलब्ध कराने को राजी हो गया। कुलपति प्रो. वीके सिंह ने बताया कि एनआईसी दिल्ली ने सर्वर पर जगह दे दी है। इसके बदले कुछ किराया देना पड़ेगा। मार्च से संयुक्त प्रवेश परीक्षा का काम इसी सर्वर पर किया जाएगा। 

कंप्यूटिंग में, नाम सर्वर (जिसे ' सर्वर्स ' भी कहा जाता है) में कोई प्रोग्राम या कंप्यूटर सर्वर होता है जो नाम-सेवा प्रोटोकॉल लागू करता है । यह सामान्य रूप से (जैसे कनेक्ट) मैप करेगा एक मानव-पहचानने पहचानकर्ता (उदाहरण के लिए, डोमेन नाम ' en.wikipedia.org ') अपने कंप्यूटर-पहचानने योग्य पहचानकर्ता (जैसे इंटरनेट प्रोटोकॉल (IP) पता 145.97.39.155), और इसके विपरीत के लिए एक होस्ट की.
Cloud hosting वो method है जिसमे customers की requirements के base पर customized online virtual servers create, modify एवं remove किये जा सकते है | Cloud hosting को website host, emails store करने के लिए एवं web-based services को distributed करने के लिए use मे लेते है | Cloud servers actually मे Physical server पर hosted virtual machines है जिन पर CPU, memory, storage आदि resources allocated करने के बाद client की requirement के according OS और दूसरे software configure किया जाते है | जब आप अपनी website को cloud पर host करते है तो website अपनी requirement के लिए, servers cluster के virtual resources को use करती है |  ×
Cloud computing is highly scalable to benefit any business or service model. With cloud computing's massively scalable layers such as Software as a Service (SaaS), Platform as a Service (PaaS), and Infrastructure as a Service (IaaS), an organization can easily manage a gamut of enterprise-level services from a remote location. Thus it is highly cost-effective in the sense you don't have to purchase expensive multiple servers to manage your office work. A single, integrated cloud server or virtual server can be stretched and scaled up or down to manage large volumes of work daily.

Cloud या cloud कंप्यूटिंग एक ऐसी आधुनिक तकनीक है जिससे आप अपनी IT क्षमताओं का विकास अपनी इच्छा अनुसार या अपने business की जरूरतों के हिसाब से कर सकते हैं और उनको कहीं भी – दफ्तर, घर या छुट्टियों में गए किसी रमणीक स्थल पर इस्तेमाल कर सकते हैं क्योंकि क्लाउड किसी नेटवर्क जैसे इंटरनेट के द्वारा प्राप्य है | ये IT क्षमताओं को ‘as a service’ उपलब्द्ध कराता है, जैसे software applications, storage, network, interface, infrastructure आदि |

बादल होस्टिंग का एक भिन्न रूप एक साथ क्लस्टरिंग सर्वर शामिल है और उन्हें एक बादल मंच के साथ जोड़ने। आपका मेजबान इस मंच पर अपने VPS सर्वर तैनाती और अपने VPS उदाहरणों करने के लिए आवंटित संसाधनों समायोजित कर सकते हैं। इस विधि के साथ, आप भी सैद्धांतिक रूप से एक ही सर्वर की मजबूरी से परे VPS बढ़ सकता है, यह बहुत अधिक रैम की तुलना में एक मशीन प्रदान कर सकता है दे रही है। आप क्लाउड होस्टिंग की इस पद्धति चुनते हैं, तो आप, आपके VPS पर नियंत्रण का एक बहुत कुछ खो देते हैं के बाद से अपने पारंपरिक सर्वर सुविधाओं में से कुछ को नजरअंदाज कर दिया जाएगा।

The VIRTUAL SERVER system divides a single physical server into multiple, "virtual" machines. Each virtual machine has its own unique domain name (ie: "yourcompany.com") and IP address(es). Although each virtual machine runs on a part of our physical server, to you and your clients, it looks just as if you are operating your own private dedicated server under your own Internet domain.
इसके अतिरिक्त, आप डाउनटाइम से निपटने के लिए नेटवर्क में अन्य सर्वर जोड़ सकते हैं, या किसी मौजूदा पल के लिए मौजूदा सेट-अप को प्रभावित किए बिना अपनी मौजूदा बैंडविड्थ / स्टोरेज स्पेस का विस्तार कर सकते हैं। तो, यह स्पष्ट है कि किसी को एक वीपीएस / समर्पित मेजबान पर अनावश्यक रूप से खर्च करने के बजाय Cloud Hosting में स्थानांतरित करने के लिए गंभीर विचार देना चाहिए जब तक कि उनका व्यवसाय वास्तव में इसकी मांग न करे।
×